Sunday, March 3, 2024
Homeदेशकेंद्रीय कर्मचारियों के लिए गुड न्यूज! DA Hike के बाद HRA में...
- Advertisment -

केंद्रीय कर्मचारियों के लिए गुड न्यूज! DA Hike के बाद HRA में भी होगा इजाफा, होगा डबल फायदा

- Advertisment -

नई दिल्ली। केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनर्स की मौज आने जा रही है, क्योंकि सरकार एक साथ दो चौंकाने वाले गिफ्ट देने जा रही है। माना जा रहा है कि सरकार केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनर्स के लिए खजाने का पिटारा खोलने वाली है, जिससे लोगों को बंपर फायदा देखने को मिल रहा है। DA Hike के बाद अब एक और खुशखबरी उनका इंतजार कर रही है। दरअसल, कर्मचारियों के हाउस रेंट अलाउंस (House Rent allowance) में भी इजाफा होने वाला है। महंगाई भत्ता 50 फीसदी कन्फर्म हो गया है।

डीए में होगी इतने फीसदी की बढ़ोतरी

माना जा रहा है कि सरकार डीए में बढ़ोतरी करने जा रही है, जिससे सैलरी चीते की तरह छलांग लगाएगी जो हर किसी का दिल जीतने के लिए काफी है। इसके अलावा सरकार फिटमेंट फैक्टर में इजाफा करेगी, जो महंगाई में किसी बूस्टर डोज की तरह साबित होगा। सरकार ने अभी दोनों बंपर सौगात को लेकर ऑफिशियली तौर पर कुछ नहीं कहा है, लेकिन मीडिया की खबरों में जल्द का दावा किया जा रहा है जो हर किसी का दिल जीतने के लिए काफी है। बता दे केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता फिलहाल 46% तक है जिसमें जल्द ही नई दरों से वृद्धि की जाएगी । केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते की बात करें तो फरवरी में इस महंगाई भत्ते को फिर से बढ़ा दिया जाएगा । नए All India Consumer Product Index AICPI के आधार पर इस बार महंगाई भत्ते में 5 फ़ीसदी की वृद्धि हो सकती है और 5% की वृद्धि होते ही या महंगाई भत्ता 50 फ़ीसदी से ज्यादा हो जाएगा।

केंद्रीय कर्मचारी साल में दो बार अपने महंगाई दर में वृद्धि देखते हैं। इस महंगाई भत्ते में वृद्धि देश भर की महंगाई दर को देखने के बाद की जाती है जिसे नापने के लिए All India Consumer Product Index AICPI का सहारा लिया जाता है। All India Consumer Product Index के आंकड़ों के आधार पर प्रत्येक छमाही में केंद्र कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में वृद्धि की जाती है और इस बार का ऑल इंडिया कंज्यूमर प्रोडक्ट्स इंडेक्स आ गया है । नए आंकड़े 31 जनवरी तक रिलीज कर दिए जाएंगे और इस आधार पर साल 2024 की पहली छमाही में महंगाई भत्ते को बढ़ा दिया जाएगा ।

महंगाई भत्ते में 4 से 5 फ़ीसदी का उछाल

जानकारों की माने तो साल 2024 की पहली छमाही के महंगाई भत्ते को 4 से 5% तक बढ़ाया जाएगा। इसके बढ़ते ही केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 4 से 5 फ़ीसदी का उछाल देखने को मिलेगा । इसके साथ ही केंद्र कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 50 फ़ीसदी से ऊपर पहुंच जाएगा। महंगाई भत्ते में नया इजाफा होते ही उनका महंगाई भत्ता 50वीं फ़ीसदी से ऊपर पहुंच जाएगा। 50 फ़ीसदी के ऊपर पहुंचते ही महंगाई भत्ते में फिर से रिवीजन करने की संभावना जताई जा रही है ।

DA 50% होते ही बेसिक वेतन बढ़ा दिया जाएगा

जानकारी के लिए बता दे 7th Pay Commission के अंतर्गत यह नियम बनाया गया है कि यदि केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 50% से ऊपर पहुंच जाता है तो केंद्रीय कर्मचारियों का मूल वेतन 50% से बढ़ा दिया जाता है और महंगाई भत्ते को फिर से शून्य कर दिया जाता है। इस प्रकार महंगाई भत्ते में फिर से नई दरों के अनुसार इजाफा होता है और केंद्रीय कर्मचारियों का मूल वेतन भी बढ़ जाता है । यदि ऐसा होता है तो केंद्र कर्मचारियों को साल 2024 की ही पहली छमाही में अपने बेसिक वेतन में वृद्धि देखने को मिलेगी वहीं साथ ही साथ उन्हें महंगाई भत्ते में भी वृद्धि उपलब्ध कराई जाएगी।

सातवें वेतन आयोग के अंतर्गत बनाए हुए इस नियम से केंद्रीय कर्मचारियों का बेसिक वेतन 50 फ़ीसदी से बढ़ जाएगा ।इस प्रकार यदि केंद्र कर्मचारियों की बेसिक सैलरी 18000 रुपए है तो उन्हें 50% के अंतर्गत Rs9000 अधिक दिए जाएंगे । वहीं साथ ही साथ उन्हें नई दरों से महंगाई भत्ता भी उपलब्ध कराया जाएगा। इसके अलावा यदि केंद्रीय कर्मचारियों का मूल वेतन Rs22000 है तो उन्हें Rs11000 का बेसिक वेतन अधिक दिया जाएगा इस प्रकार केंद्र कर्मचारियों को बेसिक वेतन में ही भारी इजाफा देखने को मिलेगा ।

HRA में भी होगा 3 % तक का इज़ाफ़ा

अब महंगाई भत्ते के 50 फीसदी होने पर HRA में फिर से रिविजन होगा। इसमें एक बार फिर 3 फीसदी का इजाफा होगा। मेट्रो शहरों यानि X कैटेगरी में आने वाले शहरों का HRA बढ़कर 30 फीसदी हो जाएगा। इन शहरों में नौकरी करने वाले कर्मचारियों को 30 फीसदी की दर से हाउस रेंट अलाउंस का भुगतान होगा। DoPT के मुताबिक, केंद्रीय कर्मचारियों के लिए हाउस रेंट अलाउंस में रिविजन महंगाई भत्ते के आधार पर होता है। हाउस रेंट अलाउंस (HRA) की कैटेगरी X, Y और Z क्लास शहरों के हिसाब से है। शहरों की कैटेगरी के हिसाब से मौजूदा दर 27 फीसदी, 18 फीसदी और 9 फीसदी है। ये बढ़ोतरी DA के साथ 1 जुलाई 2021 से लागू है। लेकिन, सरकार ने साल 2016 में एक मेमोरेडम जारी किया था। जिसमें HRA को DA Hike के साथ ही समय-समय पर रिवाइज करने का निर्देश था। 2021 में महंगाई भत्ता 25 फीसदी होने पर HRA में रिविजन हुआ था। अब 50 फीसदी महंगाई भत्ता होने पर HRA में अगला रिविजन होना है।

HRA गणना का क्या है फार्मूला?

HRA की गणना करने का एक फार्मूला है, मौजूदा स्थिति में केंद्रीय कर्मचारियों को शहर की कैटेगरी के हिसाब से हाउस रेंट दिया जाता है। सरकार ने शहरों/कस्बों को X,Y और Z श्रेणी में बांटा हुआ है। जहां सरकार X श्रेणी में 27 फीसदी, Y श्रेणी में 18 फीसदी और Z श्रेणी में 9 फीसदी हाउस रेंट अलाउंस देती है। ये हाउस रेंट अलाउंस कर्मचारी की बेसिक सैलरी के हिसाब से तय होता है।

किस शहर के लिए कितना होगा HRA

1. X कैटेगरी में- दिल्ली, अहमदाबाद, बेंगलुरु, मुंबई, पुणे, चेन्नई और कोलकाता को X कैटेगरी में रखा गया है। यहां काम करने वाले कर्मचारियों को बेसिक पे का 27 फीसदी HRA मिलता है।

2. Y श्रेणी में- पटना, लखनऊ, विशाखापत्तनम, गुंतूर, विजयवाड़ा, गुवाहाटी, चंडीगढ़, रायपुर, राजकोट, जामनगर, वडोदरा, सूरत, फरीदाबाद, गाजियाबाद, गुड़गांव, नोएडा, रांची, जम्मू, श्रीनगर, ग्वालियर, इंदौर, भोपाल, जबलपुर, उज्जैन, कोल्हापुर, औरंगाबाद, नागपुर, सांगली, सोलापुर, नासिक, नांदेड़, भिवडी, अमरावती, कटक, भुवनेश्वर, राउरकेला, अमृतसर, जालंधर, लुधियाना, बीकानेर, जयपुर, जोधपुर, कोटा, अजमेर, मुरादाबाद, मेरठ, बरेली, अलीगढ़, आगरा, लखनऊ, कानपुर, इलाहाबाद, गोरखपुर, फिरोजाबाद, झांसी, वाराणसी, सहारनपुर जैसे शहर आते हैं. यहां रहने वाले कर्मचारियों को बेसिक पे का 18 फीसदी HRA मिलता है.

3. Z श्रेणी में- एक्स और वाई कैटेगरी के शहरों से अलग बाकी सभी शहरों को जेड श्रेणी में रखा गया है। इन शहरों में काम करने वाले कर्मचारियों को बेसिक पे का 9 फीसदी HRA मिलता है।

कैसे बढ़ेगा कर्मचारियों का HRA?

हाउस रेंट अलाउंस में अगला रिविजन मार्च 2024 में हो जाएगा, जैसे ही महंगाई भत्ता 50 फीसदी होगा, HRA की अधिकतम मौजूदा दर 27 फीसदी से बढ़कर 30 फीसदी हो जाएगी। ये X कैटेगरी में आने वाले कर्मचारियों के लिए होगा. दूसरी कैटेगरी यानि Y में रिविजन 2 फीसदी का होगा। इसकी मौजूदा 18 फीसदी है, इसे बढ़ाकर 20% किया जाएगा, इसके बाद Z कैटेगरी वाले कर्मचारियों को 1 फीसदी बढ़ाकर 10% HRA मिलेगा।

DA शून्य हुआ तो घट गया था HRA

7th Pay Commission जब लागू हुआ तब HRA को 30, 20 और 10 फीसदी के दायरे से घटाकर 24, 18 और 9 फीसदी किया गया था। साथ ही इसकी 3 कैटेगरी बनाई थी X, Y और Z. उस दौरान DA को शून्य कर दिया गया था। उस वक्त ही DoPT के नोटिफिकेशन में इस बात का जिक्र था कि जब DA 25 फीसदी के मार्क पर पहुंचेगा तो HRA में ऑटोमैटिक रिवाइज हो जाएगा और श्रेणी के हिसाब से 3, 2, 1 फीसदी का इजाफा होगा. अब महंगाई भत्ते के 50 फीसदी पहुंचने पर फिर से HRA में इसी तरह इजाफा होगा।

- Advertisment -
- Advertisment -
RELATED NEWS
- Advertisment -

Most Popular