Tuesday, June 25, 2024
Homeहरियाणारोहतकरोहतक में आबकारी विभाग का एक्शन, 47 शराब ठेके किये सील, मतदान...

रोहतक में आबकारी विभाग का एक्शन, 47 शराब ठेके किये सील, मतदान के बाद ही खुलेंगी दुकानें

- Advertisment -
- Advertisment -

रोहतक। रोहतक में लोकसभा चुनाव के चलते प्रशासन की तरफ से 48 घंटे पहले सभी शराब की दुकानें बंद करने के आदेश दिए गए थे। लेकिन दुकानदारों ने इस आदेश को दर किनार करते हुए शटर बंद कर नीचे से जमकर शराब की बिक्री की। निरीक्षण करने निकली आबकारी विभाग की टीम को 47 दुकानों में शराब की बिक्री होती मिली। विभाग ने इन सभी दुकानों को शनिवार मतदान पूर्ण होने तक के लिए इन ठेकों को सील कर दिया। बता दें डीसी के आदेश का पालन कराने के लिए आबकारी विभाग की टीम 23 मई की शाम छह बजे सक्रिय हो गई और दुकानों को चेक करने के साथ ही बंद भी करा दिया। इससे शराब की बिक्री न हो सके। इसके बाद भी जिले में शराब की बिक्री हो रही थी।

आबकारी निरीक्षक राजेश कुमार ने कहा कि बंदी के दौरान अवैध रूप से शराब की बिक्री करने वालों के खिलाफ अभियान चलाने और दुकानों को चेक करने के लिए आबकारी विभाग ने टीमें गठित की। नियमों को न मानने वालों की दुकानें सील करने के आदेश दिए। चुनाव के दौरान कहीं भी शराब की बिक्री न हो इसके लिए तीन टीमें बनाई गई है। जो मौके का निरीक्षण करेंगी। पहले दिन टीम ने 47 शराब की दुकानों को सील किया है। ये सभी दुकानें शहरी क्षेत्र की हैं। ये सभी 25 मई को शाम 6 बजे खोल दी जाएंगी।

नहर के पास झाड़ियों में बेची जा रही थी शराब

भालौठ नहर स्थित सरकारी नर्सरी के पास झाड़ियों में देसी शराब का अवैध कारोबार चल रहा था। अर्बन एस्टेट थाना पुलिस ने कार्रवाई की तो शराब माफिया शराब की बोतलें छोड़कर भाग गए। अर्बन एस्टेट थाना प्रभारी प्रदीप कुमार ने बताया कि लोकसभा चुनाव को लेकर पुलिस टीम गश्त कर रही थी। तभी सूचना मिली कि बोहर गांव का अमित अपने कारिंदे के साथ भालौठ नहर स्थित सरकारी नर्सरी के पास झाड़ियों में अवैध रूप से शराब की बिक्री कर रहा है। पुलिस ने मौके से करीब 40 बोतल बरामद की।

- Advertisment -
RELATED NEWS
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular