Sunday, March 3, 2024
Homeपंजाबबलवंत सिंह राजोआना ने चौथे दिन खत्म की भूख हड़ताल, जत्थेदार और...
- Advertisment -

बलवंत सिंह राजोआना ने चौथे दिन खत्म की भूख हड़ताल, जत्थेदार और एसजीपीसी अध्यक्ष ने की मुलाकात

- Advertisment -

बलवंत सिंह राजोआना ने चौथे दिन अपनी भूख हड़ताल खत्म कर दी है। श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी रुघवीर सिंह ने सेंट्रल जेल पटियाला में राजोआना से मुलाकात की। इस दौरान एसजीपीसी अध्यक्ष हरजिंदर सिंह धामी और बलवंत सिंह राजोआना की बहन कमलदीप कौर राजोआना भी मौजूद रहीं।

मालूम हो कि राजोआना की मुलाकात जत्थेदार श्री अकाल तख्त साहिब से हुई थी। उन्होंने राजोआना से भूख हड़ताल खत्म करने की अपील की, जिसे स्वीकार करते हुए बलवंत सिंह राजोआना ने पिछले चार दिनों से चल रही भूख हड़ताल खत्म कर दी। उन्होंने श्री दरबार साहिब से पानी पीकर अपनी भूख हड़ताल समाप्त की।

दरअसल, भाई बलवंत सिंह राजोआना ने नाराजगी के चलते भूख हड़ताल शुरू कर दी थी। बता दें कि उनकी रिहाई और माफी की अपील पिछले कई सालों से लंबित है, जिसके चलते अब उन्हें इसमें दखल देना पड़ रहा है।

बेहद खास है साल की आखिरी अमावस्या ,जानिए पूजा विधि , मुहूर्त और महत्व

साथ ही केंद्र सरकार को उनकी मौत की सजा पर भी एकतरफा फैसला लेना चाहिए। वे अकाली दल से भी नाराज हैं कि 10 साल तक राज्य और केंद्र में साथ रहने के बावजूद उनकी ओर से कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया और न ही उनकी सजा को लेकर कोई फैसला लिया गया।

एसजीपीसी की ओर से बलवंत सिंह राजोआना के लिए 2011 में राष्ट्रपति के पास दया याचिका दायर की गई थी, जो आज तक लंबित है। दरअसल, राजोआना को पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह की हत्या के आरोप में मौत की सजा सुनाई गई है, लेकिन दया याचिका के चलते न तो उन्हें फांसी हुई और न ही उनकी सजा को उम्रकैद में बदला गया।

- Advertisment -
- Advertisment -
RELATED NEWS
- Advertisment -

Most Popular