Wednesday, April 24, 2024
Homeहरियाणापानीपतहरियाणा में पिता बना हैवान, नाबालिग बेटी को गोलियां से भूना, ऑनर...

हरियाणा में पिता बना हैवान, नाबालिग बेटी को गोलियां से भूना, ऑनर किलिंग की आशंका

पानीपत। हरियाणा में एक बार फिर ऑनर किलिंग का मामला सामने आया है। पानीपत जिले के एक गांव में एक पिता ने अपनी नाबालिग बेटी को गोलियों से भून दिया। खून से लथपथ हालत में 17 वर्षीय किशोरी को तुरंत सिवाह स्थित एक निजी अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। वहीं हत्या की वारदात को अंजाम देने के बार आरोपी पिता फरार हो गया। हत्या का ये मामाला समालखा के गांव पट्टी कल्याणा का है। मामले की सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और जांच में जुट गई है। मृतक का की पहचान भावना के रूप में हुई है। आरोपी पिता वारदात के बाद से फरार है।

जानकारी के अनुसार, 17 साल की भावना की उसके पिता अनिल गुर्जर ने गोलियां मारकर घाट के घाट उतार दिया। आरोपी पिता ने उसपर 4 से 5 गोलियां चलाई है। गोली चलने की आवाज सुनकर आस पड़ोस में सनसनी फैल गई। लोगों ने मौके पर आकर देखा तो भावना खून से लथपथ पड़ी हुई थी। गोली लगने के बाद भावना को खून से लथपथ अवस्था में सिवाह स्थित पार्क अस्पताल लाया गया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मामले की सूचना पाकर मौके पर पहुंची और जांच में जुट गई।

हल्दाना चौकी प्रभारी SI प्रदीप ने बताया कि वारदात बुधवार दोपहर करीब 12 बजे की है। लड़की के चाचा ने शिकायत देकर बताया कि उसके भाई अनिल का उसकी बेटी भावना के साथ घर के कामकाज और स्कूली शिक्षा को लेकर विवाद हुआ था। दोनों के बीच अकसर इन दो बातों को लेकर झगड़ा रहता था। जिसके चलते अनिल ने तैश में आकर भावना को ताबड़तोड़ गोलियां मारी, जिससे उसकी मौत हो गई। भावना दसवीं पास थी। आगे की पढ़ाई को लेकर विवाद रहता था। आरोपी के पास लाइसेंसी पिस्तौल थी। फिलहाल वह फरार है। पुलिस द्वारा मामला ऑनर किलिंग से जुड़ने की आशंका जताई जा रही। पुलिस का कहना है कि मृतका के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

स्थानीय ग्रामीणों से पूछताछ में सामने आया कि आरोपी बाप अनिल पेशे से प्रॉपर्टी डीलर है। इसके अलावा वह खेतीबाड़ी भी करता है। भावना दो छोटे भाइयों से बड़ी बहन थी। आरोपी पिता ने वारदात को घर के भीतर ही अंजाम दिया। वारदात को उस वक्त अंजाम दिया गया, जब घर में कोई भी नहीं था। घर में सिर्फ बाप बेटी और एक बुजुर्ग दादा थे। इस वारदात के बाद गांव में काफी संख्या में लोग जमा हो गए हैं। दादा को किसी तरह की भनक नहीं लगी थी। लेकिन उन्होंने फिर भी एक कहानी जड़ी। बुजुर्ग दादा ने घर पर पता करने आए लोगों को कहा कि उसकी पोती सीढ़ियों से गिर गई, जिससे उसकी मौत हो गई।

वारदात की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच चुकी है। लेकिन पानीपत FSL टीम प्रभारी डॉक्टर नीलम आर्या के विभागीय काम से बाहर जाने की वजह सोनीपत टीम को सूचित किया गया है। सोनीपत टीम अभी नहीं पहुंची, जिस वजह मौके पर किसी को भी जाने की पुलिस अनुमति नहीं दे रही है। शव को निजी अस्पताल से सरकारी अस्पताल लाया गया है। यहां पंचनामा भरवा कर शव को शवगृह में रखवाया गया है।

किसान भवन के प्रधान सूरजभान ने बताया कि आरोपी अनिल काफी समय से किन्हीं कारणों के चलते मानसिक रूप से परेशान था। बुधवार को वह बाहर से शराब पीकर घर पहुंचा। यहां खुद को गोली मारने का प्रयास, लेकिन बेटी बीच में आ गई। उसने बेटी की और फायर कर दिया। प्रधान सूरज भान का दावा है कि वारदात को अंजाम देने के बाद अनिल नशे की हालत में पिस्तौल लेकर थाने में पहुंचा और सरेंडर कर दिया।

- Advertisment -
RELATED NEWS

Most Popular