Wednesday, February 8, 2023
Homeखेल जगतWrestlers Protest: एक्शन में खेल मंत्रालय, WFI के सहायक सचिव विनोद तोमर...

Wrestlers Protest: एक्शन में खेल मंत्रालय, WFI के सहायक सचिव विनोद तोमर को किया सस्पेंड

भारतीय स्टार पहलवानों द्वारा लगाए गए यौन उत्पीड़न आरोपों पर खेल मंत्रालय ने बड़ी कार्यवाई की है। खेल मंत्रालय ने शनिवार को भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) के सहायक सचिव विनोद तोमर को खेल निकाय के प्रमुख बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ यौन उत्पीड़न और भ्रष्टाचार के आरोपों के बाद निलंबित कर दिया। मंत्रालय ने यूपी के गढ़ गोंडा में शुरू होने वाली ओपन चैंपियनशिप को भी रद्द कर दिया। बता दें कि सिस्टेंट सेक्रेटरी विनोद तोमर ने बृजभूषण शरण सिंह के समर्थन में बयान दिए थे।

यह फैसला खेल मंत्रालय और पहलवानों के बीच कल हुई बैठक का हिस्सा बताया जा रहा है। तोमर ने डब्ल्यूएफआई अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के साथ मिलकर काम किया और डब्ल्यूएफआई के दिन-प्रतिदिन के मामलों को देखा। खेल मंत्रालय ने डब्ल्यूएफआई से उत्तर प्रदेश के गोंडा में चल रहे रैंकिंग टूर्नामेंट को रद्द करने को भी कहा। मंत्रालय ने महासंघ को निर्देश दिया है कि चल रहे कार्यक्रम के लिए प्रतिभागियों से लिए गए प्रवेश शुल्क को वापस किया जाए। सूत्रों ने यह भी कहा कि मंत्रालय की जल्द बनने वाली निगरानी समिति के पास भारतीय कुश्ती से जुड़े मामलों पर सभी फैसले लेने का अधिकार होगा।

शुक्रवार देर रात एक मैराथन बैठक के अंत में खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि सरकार ने विनेश फोगट, बजरंग पुनिया, साक्षी मलिक और रवि दहिया, शरण सहित देश के कुछ शीर्ष पहलवानों द्वारा लगाए गए आरोपों की जांच के लिए एक निगरानी समिति बनाने का फैसला किया है। बता दें कि बजरंग पुनिया, विनेश फोगट, साक्षी मलिक और कई अन्य पहलवानों ने 18 जनवरी को डब्ल्यूएफआई के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। 28 वर्षीय फोगट ने आरोप लगाया कि बृजभूषण शरण महिला पहलवानों को परेशान करते रहे हैं। सरकार से आश्वासन मिलने के बाद पीड़ित भारतीय पहलवानों ने शुक्रवार देर रात 20 जनवरी को अपना विरोध बंद कर दिया।

RELATED NEWS
- Advertisment -

Most Popular