Wednesday, February 8, 2023
HomeपंजाबWeather update: हरियाणा के इन शहरों में शिमला से ज्यादा ठंड, जानें...

Weather update: हरियाणा के इन शहरों में शिमला से ज्यादा ठंड, जानें आगे कैसा रहेगा मौसम

Haryana Weather update: हरियाणा पिछले कुछ हफ्तों से भीषण शीत लहर की स्थिति में कांप रहा है। प्रदेश के कई शहरों में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। हालात ऐसे हैं कि प्रदेश के कुछ शहरों में तापमान शिमला से भी कम दर्ज किया गया है। आने वाले दिनों में लोगों को और अधिक ठंड का सामना करना पड़ेगा।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, बीते दिन हरियाणा के हिसार शहर का न्यूनतम तापमान 0.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, वहीं दूसरी तरफ पर्वतीय राज्य हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में बर्फबारी के बाद भी 1.2 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया था। इससे स्पष्ट हो जाता है कि हरियाणा के कुछ इलाकों में जबरदस्त ठंड पड़ रही है। हरियाणा के ही महेंद्रगढ़ में न्यूनतम तापमान माइनस 0.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

आईएमडी के अनुसार, बुधवार तक उत्तर पश्चिम भारत में शीतलहर से लेकर गंभीर शीतलहर की स्थिति का अनुमान है। राजस्थान, पंजाब और हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली के कुछ हिस्सों में 18 तारीख तक और उसके बाद 19 तारीख को पूर्वी राजस्थान के अलग-अलग हिस्सों में शीतलहर से गंभीर शीत लहर की स्थिति होने की संभावना है। पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, मध्य प्रदेश और पश्चिम उत्तर प्रदेश में मंगलवार और बुधवार को अलग-अलग स्थानों पर पाला पड़ने की संभावना है। 18 जनवरी तक उप हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में रात और सुबह के समय अलग-अलग इलाकों में घना से बहुत घना कोहरा छाए रहने की संभावना है। इस बीच, इसी अवधि के दौरान हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के अलग-अलग इलाकों में घना कोहरा छाए रहने की संभावना है।

मौसम रिपोर्ट के मुताबिक, 17 जनवरी की सुबह तक उत्तर पश्चिम भारत के कई हिस्सों में न्यूनतम तापमान में लगभग दो डिग्री सेल्सियस की और गिरावट आने की संभावना है। हालांकि, 18 जनवरी तक कोई महत्वपूर्ण बदलाव की भविष्यवाणी नहीं की गई है और फिर तापमान में 2.5 डिग्री सेल्सियस की वृद्धि होने की उम्मीद है। इस क्षेत्र में 19 से 21 जनवरी के बीच चार से छह डिग्री सेल्सियस। 18 जनवरी और 20 जनवरी को दो पश्चिमी विक्षोभ के उत्तर पश्चिम भारत को प्रभावित करने की संभावना है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार, इन मौसम की स्थिति के परिणामस्वरूप उत्तर पश्चिम भारत में शीत लहर की स्थिति 19 जनवरी से समाप्त होने की संभावना है।

RELATED NEWS
- Advertisment -

Most Popular