ऱिश्वत मांगने के आरोप में IAS संजय पोपली गिरफ्तार

देश , पंजाब | PUBLISHED BY: ALKA | PUBLISHED ON: 22 JUN, 2022

bribe

concept image

चंडीगढ़ : पंजाब विजिलेंस ब्यूरो ने IAS संजय पोपली को रिश्वत मांगने के आरोप में गिरफ्तार किया है। उनपर नवांशहर में सीवरेज पाइप लाइन बिछाने का टेंडर निकालने के एवज में कथित तौर पर रिश्वत मांगने का आरोप है। एक आधिकारिक बयान के अनुसार, उनके कथित गुर्गे संदीप वत्स को भी जालंधर से पकड़ा गया है।

हरियाणा के करनाल निवासी, संजय कुमार ने अपनी शिकायत में कहा कि संजय पोपली ने पंजाब जल आपूर्ति और सीवरेज बोर्ड में मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) के रूप में अपने सहायक सचिव संदीप वत्स के साथ मिलकर 7.30 करोड़ रुपये के टेंडर को मंजूरी देने के लिए कथित तौर पर रिश्वत की मांग की थी।

उन्होंने बताया कि वत्स ने 12 जनवरी को पोपली की ओर से टेंडर आवंटन के लिए सात करोड़ रुपये की परियोजना का एक प्रतिशत यानी सात लाख रुपये की रिश्वत मांगी थी। विजिलेंस ब्यूरो के एक प्रवक्ता के हवाले से बयान में कहा गया, ‘‘डरते हुए उसने (कुमार ने) अपने बैंक खाते से साढ़े तीन लाख रुपये निकाले और चंडीगढ़ के सेक्टर-20 में एक कार में संदीप वत्स को सौंप दिए। राशि मिलने के बाद वत्स ने पोपली को इसकी सूचना दी और अपने लिए 50 हजार रुपये ले लिए।

हालांकि, कुमार ने वत्स द्वारा बार-बार मांगे जा रहे शेष साढ़े तीन लाख रुपये देने से इनकार कर दिया था। प्रवक्ता ने कहा कि उन्होंने पूरी बातचीत की वीडियो भी बनाई थी और इसे विजिलेंस ब्यूरो को सौंप दिया था। शिकायतकर्ता के बयान और वीडियो साक्ष्य के आधार पर पोपली और वत्स के खिलाफ निविदा आवंटन के लिए कथित तौर पर एक प्रतिशत रिश्वत मांगने और साढ़े तीन लाख रुपये रिश्वत के रूप में प्राप्त करने का मामला दर्ज किया गया है।

bribe ,punjab ,corruption ,संजय कुमार, sanjay kumar ,पोपली , चंडीगढ़ , मुख्य कार्यकारी अधिकारी,संदीप वत्स,विजिलेंस ब्यूरो,punjab news,crime news,टेंडर आवंटन , IAS संजय पोपली, संजय पोपली,sanjay popli

खबरें और भी हैं..

अन्य समाचार