Wednesday, February 8, 2023
Homeस्वास्थ्यसर्दियों में नहाते वक्त ना करें ये गलती वरना बन सकते हैं...

सर्दियों में नहाते वक्त ना करें ये गलती वरना बन सकते हैं हार्ट अटैक के शिकार

Lifestyle: सर्दियों के मौसम में नहाना बहुत बड़ी चुनौती होती है। इस मौसम में किस तरह के पानी से नहाना है उस पर ध्यान देना बहुत आवश्यक होता है। कुछ लोग तो ठंड के मौसम में भी ठंडे पानी से नहा लेते हैं जो सेहत के लिए बहुत ही खतरनाक साबित हो सकता है। ऐसे मौसम में ठंडे पानी से नहाने से जान भी जा सकती है। इसलिए ठंड के मौसम में कैसे पानी से नहाना चाहिए इस पर ध्यान देने की बहुत आवश्यकता है।

Lifestyle: सर्दियों के मौसम में नहाना बहुत बड़ी चुनौती होती है। इस मौसम में किस तरह के पानी से नहाना है उस पर ध्यान देना बहुत आवश्यक होता है। कुछ लोग तो ठंड के मौसम में भी ठंडे पानी से नहा लेते हैं जो सेहत के लिए बहुत ही खतरनाक साबित हो सकता है। ऐसे मौसम में ठंडे पानी से नहाने से जान भी जा सकती है। इसलिए ठंड के मौसम में कैसे पानी से नहाना चाहिए इस पर ध्यान देने की बहुत आवश्यकता है।

स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि सर्दियों के मौसम में ठंडे और गर्म पानी दोनों से ही नहाने से खतरा है। खास तौर पर ठंडे पानी से नहाना तो अपनी मौत को दावत देने जैसा है। इससे हार्ट अटैक या फिर ब्रेन स्ट्रोक के शिकार भी हो सकते हैं। स्वास्थ्य विशेषज्ञ  का कहना है कि ठंडे पानी से नहाने के कारण स्ट्रोक के अलावा हार्ट अटैक का भी खतरा बढ़ जाता है, इसको लेकर सभी लोगों को विशेष ध्यान रखने की जरूरत है। अचानक से ठंडे पानी के संपर्क में आने के कारण मायोकार्डियल इन्फार्कशन जैसी स्थितियों का खतरा हो सकता है। नदियों में ठंडे पानी में डुबकी लगाने से शरीर का तापमान अचानक से कम होने के साथ पेरिफेरल वैस्कुलर रेजिस्टेंस बढ़ जाता है, यह स्थिति तेजी से ब्लड प्रेशर को बढ़ा देती है जिससे स्ट्रोक और हार्ट अटैक हो सकता है।

सर्दियों के मौसम में ठंडे पानी से नहाना तो नुकसानदेह है ही साथ में गर्म पानी से नहाने से भी कई नुकसान होते हैं। ज्यादा गर्म पानी से नहाने की आदत त्वचा संबंधी विकारों जैसे सूखापन, खुजली के अलावा बालों की जड़ों को कमजोर कर सकती है। नहाने के लिए हमेशा हल्के गुनगुने पानी का इस्तेमाल करें। पानी का तापमान न तो बहुत अधिक हो, न बहुत कम। ज्यादा गर्म पानी से नहाने की आदत त्वचा की नमी के प्राकृतिक संतुलन को भी बाधित कर देती है।

इन बातों का रखें खास ख्याल-

सर्दियों के मौसम में शावर से नहीं नहाना  चाहिए। बाल्टी में गुनगुना पानी लेकर उसी से नहाना चाहिए। नहाने की शुरुआत अपने पैरों को धोने से करें और नहाने के तुरंत बाद शरीर पर टॉवेल लपेट लेना चाहिए।

 

RELATED NEWS
- Advertisment -

Most Popular