मिलेंगे बिछड़े लोग, रोहतक में नई शुरूआत

रोहतक। हरियाणा पुलिस द्वारा ऑपरेशन मुस्कान शुरु किया गया है जिसके अन्तर्गत लापता, लावारिस या बिछड़े हुए बच्चों को ढुंढकर उनके माता-पिता व वारिसों तक पहुँचाया जाएगा। यह विशेष अभियान मार्च महीने में 31 तारीख तक चलाया जाएगा। इसी संदर्भ में जिला रोहतक में ऑपरेशन मुस्कान के नोडल अफसर उप-पुलिस अधीक्षक रमेश कुमार ने अपने कार्यालय में अधिकारियों के साथ बैठक कर दिशा-निर्देश जारी किए है।

बैठक में सभी थानों में तैनात बाल कल्याण अधिकारी, सी.आर.औ. व अन्य अधिकारी उपस्थित थे। बैठक में नोडल अफसर रमेश कुमार नें अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि सभी शैल्टर होम, चिलड्रन होम, रेलवे पलेटफार्म, बस-स्टेण्ड, फुटपाथ, धार्मिक स्थलों में जाकर गुमशुदा बच्चों की तलाश की जाए। होटल, ढाबों, फैक्टरियों आदि पर सर्च अभियान चलाया जाए। गुमशुदा बच्चों के माता-पिता से मिलकर हर छोटी बडी बात की जानकारी हासिल कर गहनता से जांच की जाए। बच्चों को अपहरण करके भीख मंगवाने वाले गिरोह के बारे में जानकारी प्राप्त करके उनके खिलाफ नियमानुसार कार्यवाही की जाए और बच्चों को मुक्त कराकर उनके माता-पिता के पास पहुँचाया जाए।

यह भी पढ़ें:  दुष्यंत चौटाला ने लगाया मनोहर सरकार पर आरोप, कही ये बात

रोहतक पुलिस की तरफ से आमजन से अनुरोध है कि जब भी आपको अपने आस-पास कोई लावारिस बच्चा दिखाई दे तो तुरंत पुलिस को सूचित करे। आमजन अपने नजदीकी थाना/चौकी या पुलिस कन्ट्रोल रुम नम्बर 100, 9996464100 व 01262-228113 पर सूचना दे सकते है। रोहतक पुलिस द्वारा लावारिस बच्चे के परिजनों की तलाश के हर संभव प्रयत्न किए जाएंगे। आमजन भी ऑपरेशन मुस्कान में अपना बहुमूल्य योगदान दे सकते है।