बीरेंद्र सिंह ने बताया, कैसे करे गऊ माता की सेवा

झज्जर। भारत सरकार में इस्पात मंत्री बीरेंद्र सिंह ने कहा कि गाय को आर्थिक दृष्टि से उपयोगी बनाने का काम गोशालाएं कर सकती है। गाय की भारतीय नस्लों के संवर्धन से ही गऊ माता की सही मायनों में सेवा की जा सकती है। उन्होंने यह बात गांव डीघल की गोपाल श्रीकृष्ण गोशाला के 98वां वार्षिकोत्सव को संबोधित करते हुए कही। वार्षिकोत्सव में मुख्य अतिथि के तौर पर पहुंचे केंद्रीय मंत्री ने गोशाला के लिए अपने कोष से 21 लाख रुपए का अनुदान देने की घोषणा भी की।

बीरेंद्र सिंह ने कहा कि गाय के प्रति हमारी आस्था और श्रद्धा माता-पिता व बुजुर्गों का सम्मान करने जैसी है। वहीं गोशाला में पहुंचने पर केंद्रीय मंत्री का पगड़ी बांध कर व फूलमालाओं से स्वागत किया गया। उन्होंने कहा कि डीघल गोशाला का इतिहास बहुत पुराना है और जब इस गोशाला की नींव रखी गई होगी तो उस समय के लोगों के मन में गोसेवा के भाव को आज स्मरण करना भी बड़ी बात है। केंद्रीय इस्पात मंत्री ने कार्यक्रम में आस-पास से आए लोगों से कहा कि किसानों को खेती व सरकारी नौकरी के साथ-साथ उद्योग-व्यापार-बैंकिंग क्षेत्र में आना होगा।

यह भी पढ़ें:  सुरजेवाला का दावा, कांग्रेस सरकार बनने पर करेंगे ये काम