छा गया झज्जर, देश में किया हरियाणा का नाम

झज्जर। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने झज्जर जिला प्रशासन द्वारा लिंगानुपात में सुधार के प्रयासों की सराहना की है। गत दिवस अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर राष्ट्रपति भवन, नई दिल्ली में आयोजित नारी शक्ति पुरस्कार कार्यक्रम के दौरान राष्ट्रपति के समक्ष झज्जर की उपायुक्त सोनल गोयल ने लिंगानुपात में सुधार के अनुभव को सांझा किया।

स्कूली छात्राओं को सीएसआर के तहत नि:शुल्क सेनेटरी नेपकिन पैड वितरण कार्यक्रम की शुरुआत की सराहना करते राष्ट्रपति ने कहा कि सीएसआर के तहत इस तरह की कोशिश पूरे देश में होनी चाहिए। उन्होंने केंद्रीय महिला एवम बाल विकास मंत्री मेनका गांधी को भी मंत्रालय की ओर से इस दिशा में काम करने को कहा।

सोनल गोयल ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को झज्जर में लिंगानुपात सुधार तथा सफल परिणामों, महिलाओं के लिए चलाई जा रही योजनाओं पर आधारित विशेष रूप से तैयार की गई विवरणिका म्हारी लाडो भी भेंट की। झज्जर जिला के लिंगानुपात में सुधार की उपलब्धि को केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्रालय की ओर से नारी शक्ति कार्यक्रम में जगह दी गई। झज्जर की उपायुक्त सोनल गोयल राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र से अकेली ऐसी डिप्टी कमिश्नर थी जिन्हें नारी शक्ति पुरस्कार में अनुभव सांझा करने और नेतृत्व करने का अवसर मिला।

यह भी पढ़ें:  अनिल विज को पसंद नहीं आया स्वर्ण जयंती शब्द का इस्तेमाल